Pandit Dhirendra Shastri: बागेश्वर धाम के पंडित धीरेंद्र शास्त्री ने सनातन पर उदय निधि के बयान पर प्रतिक्रिया व्यक्त की।

Pandit Dhirendra Shastri

Pandit Dhirendra Shastri: बागेश्वर धाम के पंडित धीरेंद्र शास्त्री ने सनातन पर उदय निधि के बयान पर प्रतिक्रिया व्यक्त की।

उदय निधि के बयान पर भड़के पंडित धीरेंद्र शास्त्री

नई दिल्ली: तमिलनाडु के मुख्यमंत्री के बेटे का एक बयान अभी देश भर में चर्चा का विषय है। सनातन के खिलाफ बयान देने के बाद उदय निधि पर व्यापक आरोप लगाए गए हैं। यही स्थान है जहां उन शानदार पलटवार हो रहे हैं। साथ ही बागेश्वर धाम के पंडित धीरेंद्र शास्त्री ने उन पर कड़ा हमला बोला है। ध्यान दें कि इससे पहले एनडीए ने भारत गठबंधन पर कड़े सवाल उठाए थे। और उसके खिलाफ कई गंभीर आरोप लगाए गए थे। अब हम आपको जानकारी देंगे। उदय निधि के बयान पर बागेश्वर धाम के पंडित धीरेंद्र शास्त्री ने क्या कहा? नीचे हम आपको खबर बताते हैं।

बागेश्वर धाम के पंडित धीरेंद्र शास्त्री ने कहा कि ये रावण के खानदान के लोग हैं, जब तक जल और सूरज रहेगा। तब तक सनातन धर्म अस्तित्व में रहेगा। सनातन धर्म की ओर झुकने या किसी तरह की कोई घोषणा करने की हिम्मत किसी को नहीं है। सनातन धर्म को लेकर किसी को बोलने का अधिकार नहीं है।

उन्होंने आगे कहा कि रावण के खानदान के लोगों ने भारत आकर सनातन धर्म का विरोध किया है। अगर वे भारतीय हैं तो देश में रहने वाले सभी सनातन लोगों के दिलों को चोट लगी है। यह पूरा देश सनातन और राम का है। पुरातन देश रहेगा। जब तक जल और सूरज भूमि पर रहेंगे तब तक निरंतर रहेगा। बहुत से लोग आए और चले गए। लेकिन सनातन को कुछ नुकसान नहीं हुआ। ऐसे जानवरों को बहुत अधिक प्रतिक्रिया नहीं देनी चाहिए ऐसे लोगों को बाहर निकालना चाहिए।

सनातन धर्म का विरोध करते हुए उदय निधि ने कहा कि इसे सिर्फ विरोध नहीं करना चाहिए बल्कि समाप्त कर देना चाहिए। सामाजिक न्याय और समानता सनातन धर्म के खिलाफ हैं। इस बयान को लेकर व्यापक प्रदर्शन हुआ है। उदय निधि ने कहा कि हम कोरोना, डेंगू मच्छर या मलेरिया का मुकाबला नहीं कर सकते हैं।इस विरोध के बाद पूरे देश में हलचल मची हुई है कि हमें इसे मिटाना चाहिए।

साथ ही, आरएसएस ने सख्त निशाना साधा और कार्रवाई की मांग की। एनडीए ने भारत गठबंधन पर निशाना साधते हुए कहा कि राहुल गांधी, प्रियंका गांधी और सोनिया गांधी के अलावा विपक्ष की कोई प्रतिक्रिया नहीं होगी। आखिरकार, मुंह क्यों बंद है? सनातन धर्म के लोग अपनी बात को क्यों नहीं समझाते हैं?

About Pandit Dhirendra Shastri

पंडित धीरेंद्र शास्त्री एक प्रमुख हिन्दू धार्मिक स्थल, बागेश्वर धाम के पुजारी हैं। उन्होंने अपने जीवन को भगवान की सेवा में समर्पित किया है और उनका योगदान बागेश्वर क्षेत्र के धार्मिक और सामाजिक जीवन को समृद्ध किया है।

पंडित धीरेंद्र शास्त्री बागेश्वर धाम के मुख्य पुजारी हैं और वे इस प्रसिद्ध हिन्दू तीर्थस्थल के मंदिरों का प्रबंधन करते हैं। बागेश्वर धाम उत्तराखंड के पर्वतीय क्षेत्र में स्थित है और माँ बागेश्वर के प्रसन्न होने के लिए प्रसिद्ध है। यहां के मंदिर एक महत्वपूर्ण तीर्थ स्थल के रूप में माने जाते हैं और प्रतिवर्ष लाखों श्रद्धालुओं को आकर्षित करते हैं।

पंडित धीरेंद्र शास्त्री का ध्येय है कि वे धार्मिक स्थल के प्रत्येक श्रद्धालु की देखभाल करें और उनके लिए सभी प्रकार की सुविधाएं प्रदान करें। उनका उद्देश्य है कि लोग आसानी से माँ बागेश्वर की पूजा कर सकें और उनके आगमन को सुखद बना सकें।

पंडित धीरेंद्र शास्त्री के प्रयासों का परिणाम है कि बागेश्वर धाम का धार्मिक और सांस्कृतिक महत्व बढ़ा है। उन्होंने मंदिरों की सुरक्षा और सजावट का भी सुनिश्चित किया है, जिससे इस स्थल का चारम्य और आकर्षक बना रहा है।

पंडित धीरेंद्र शास्त्री के अलावा, वे बागेश्वर क्षेत्र के सामाजिक और धार्मिक आयोजनों में भी भाग लेते हैं। वे धार्मिक उत्सवों और मेलों की आयोजन करते हैं, जिनमें लोग भगवान की पूजा करने और अपने आत्मा को शुद्ध करने का अवसर पाते हैं।

पंडित धीरेंद्र शास्त्री एक दिव्य आदर्श हैं जो धर्मिक नेतृत्व के माध्यम से समाज की सेवा करते हैं। उनके योगदान ने बागेश्वर क्षेत्र के सामाजिक और धार्मिक जीवन को सुधारा है और लोगों को धार्मिकता के माध्यम से जीवन के महत्व को समझने में मदद की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *